• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Tradition Of Gurukul In Sant Pashupatinath Ved Vidyalaya, Class Starts With Recitation Of Veda Mantras

पटना3 घंटे पहलेलेखक: आलोक कुमार

  • कॉपी लिंक

संत पशुपतिनाथ वेद विद्यालय में शिक्षा ग्रहण करते बटुक।

संत पशुपतिनाथ वेद विद्यालय। स्मार्ट क्लास और ऑनलाइन एजुकेशन के दौर में भी यहां गुरुकुल की परंपरा कायम है। पटना में तारामंडल के सामने विद्यापति मार्ग स्थित यह विद्यालय किसी भी सरकारी या निजी स्कूल से अलग है। यहां पढ़ने वाले बच्चे अपना काम स्वयं करते हैं। मसलन, विद्यालय की सफाई, अपना कपड़े धोना, खाना बनाने में रसोईए का सहयोग आदि काम छात्र खुद करते हैं। जब यह संवाददाता विद्यालय परिसर में पहुंचा तो क्लास चल रहा था। हरि ऊं…के साथ वेदमंत्र गूंज रहे थे। हर दिन क्लास में सबसे पहले वेद मंत्रों का सामूहिक पाठ होता है, फिर सिलेबस से पढ़ाई होती है।

सुबह 7.30 से 11.30 बजे तक क्लास चलता है। दोपहर बाद गायत्री मंत्र का जप कराया जाता है। फिलहाल यहां 40 बच्चे पढ़ रहे हैं। प्राचार्य अक्षय तिवारी के अनुसार बिहार के अलग-अलग जगहों के साथ यूपी के बच्चे भी हैं। बच्चों काे पढ़ाई के साथ रहना-खाना, कपड़े, पाठ्य पुस्तकें आदि विद्यालय की ओर से ही उपलब्ध कराए जाते हैं। फीस नहीं ली जाती है। हर साल मार्च में फॉर्म निकलता है, जिसे पांचवीं पास छात्र ही भर सकते हैं। टेस्ट के बाद चुने हुए छात्रों का एडमिशन लिया जाता है।

सुबह 4 बजे भगवान की स्तुति से शुरू होती है दिनचर्या : यहां विद्यार्थियों की दिनचर्या गर्मी में सुबह चार बजे अौर जाड़े में सुबह 5 बजे भगवान की स्तुति से शुरू होती है। एक घंटे योगा करने के बाद 7.30 बजे से क्लास शुरू हो जाता है।

प्रथमा से मध्यमा तक की पढ़ाई
यहां संस्कृत के साथ हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, सामाजिक विज्ञान, व्याकरण व संगीत की शिक्षा भी दी जा रही है। 2007 में स्थापित इस विद्यालय में दो वेद शुक्ल यजुर्वेद और अथर्ववेद की पढ़ाई भी होती है। सबसे बड़ी बात है कि यहां न तो समाज का बंधन है और न ही जाति की जंजीर। किसी भी जाति-समाज के बच्चे यहां संस्कृत, व्याकरण, वेद और कर्मकांड की शिक्षा ग्रहण करते हैं। यहां पढ़ने वाले कई बच्चे यहां से मध्यमा उत्तीर्ण होने के बाद वृंदावन, तिरूपति, संपूर्णानंद विश्वविद्यालय आदि जगह उपशास्त्री, शास्त्री और आचार्य की पढ़ाई कर रहे हैं।

यह भी जानिए

  • मध्य प्रदेश स्थित महर्षि संदीपनी वेद विद्या प्रतिष्ठान से अनुदान मिलता है।
  • लुप्त हो रहे वैदिक संस्कार व संस्कृति को बचाने के लिए सरकार के अभियान का यह हिस्सा है।
  • यहां वेद वेदांत के तीन शिक्षक हैं और व्याकरण, मैथ व अंग्रेजी के एक-एक शिक्षक हैं।
  • क्लास पांच के बाद एडमिशन होता है और सात साल बाद बच्चे मध्यमा (मैट्रिक) पास करने के बाद चले जाते हैं।
  • यहां पढ़ने वाले बच्चे बटुक के नाम से जाने जाते हैं। शहर में बुलावे पर वेद परायण करने जाते हैं और वेद मंत्रों का पाठ करते हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

By bihardelegation21

Chandan kumar patel (BA) , I am not social worker I am Social Media Worker.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik? Ariana Grande Net Income आलिया भट्ट कितना कमाती है Aalia Bhath Earning
दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik?
%d bloggers like this: