• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Youth Congress President Said Everyone Will Tolerate But The Hurt On The Soul Of Congress Will Not Be Tolerated

पटनाएक घंटा पहलेलेखक: प्रणय प्रियंवद

  • कॉपी लिंक

राहुल गांधी के साथ गुंजन पटेल, फाइल फोटो।

बिहार प्रदेश कांग्रेस में डेलिगेट के चयन पर बवंडर जैसी स्थिति है। कई नेताओं ने इस पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर दी है। जानकारी है कि बिहार कांग्रेस में 594 डेलिगेट्स बनाए गए हैं। लेकिन कइयों का नाम इसमें नहीं है। इस कारण से असंतोष काफी है। बताया जा रहा है कि डेलिगेट्स की सूची अब तक दबा कर रखी गई थी लेकिन इसके बाहर आने के बाद बवंडर उठने लगा है! कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच ये सूची वायरल हो रही है। इस बवंडर की आशंका पहले से थी! इसको लेकर किसी भी दिन कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में माहौल खराब हो सकता है। बिहार यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गुंजन पटेल ने इस पर गंभीर सवाल उठाया है और शीर्ष नेताओं को पत्र लिखा है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में ये भाग लेंगे

कांग्रेस में इन डेलिगेट्स का महत्व इसलिए है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में ये भाग लेने की योग्यता रखते हैं। कांग्रेस में राहुल गांधी ने कह दिया है कि वे अध्यक्ष नहीं बनना चाहते हैं। उसके बाद शशि थरुर, अशोक गहलोत जैसे कई नेताओं का नाम इस पद के लिए चल रहा हैं। अगर कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में एक से अधिक उम्मीदवार हुए तो वोटिंग होना तय है। इसके लिए 24 से 30 सितंबर तक नामांकन प्रक्रिया चलने वाली है। ये डेलिगेट्स इसमें हिस्सा लेंगे और वोट करेंगे। डेलिगेट्स प्रदेश अध्यक्ष, कोषाध्यक्ष, उपाध्यक्ष और प्रदेश इलेक्शन कमेटी के चुनाव में भी भाग लेते हैं।

यूथ कांग्रेस के साथ बहुत गलत हुआ- गुंजन पटेल

यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गुंजन पटेल ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि- ‘मेरे साथ अन्याय कीजिए, गाली दीजिए, सब बर्दाश्त कर लेंगे पर अगर कांग्रेस की आत्मा पर चोट कीजिएगा और राहुल गांधी के युवा सिपाहियों को लगातार अपमानित करते रहिएगा तो वो बर्दाश्त नहीं करेंगे। बिहार कांग्रेस डेलिगेट की लिस्ट कांग्रेस की आत्मा पर चोट है और युवा विरोधी भी।’ गुंजन पटेल के ट्वीट पर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। अमन कुमार ने लिखा है- ‘ बिहार कांग्रेस अब तेजस्वी यादव और राजद की रखैल बनकर रह गई है।’ भास्कर ने गुंजन पटेल से बात की। उन्होंने बताया कि आपसी सामंजस्य से डेलिगेट बनाया जाता है। लेकिन इस बार उम्मीद से खराब डेलिगेट बनाए गए हैं। बहुत गलत हुुआ है। यूथ कांग्रेस को जो शेयर मिलना चाहिए था नहीं मिला। पांच डेलिगेट यूथ कांग्रेस से बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि यह पार्टी का अंदरुनी मामला है इसलिए इस पर आपसे ज्यादा बात नहीं कर सकते। मुझे जिन तक बात पहुंचानी है पत्र द्वारा पहुंचा दी है।

राहुल गांधी की सोच के विपरीत पार्टी संगठन को कमजोर करने की कोशिश

एक अन्य कांग्रेस नेता कुमार आशीष ने ट्वीट किया है-‘ पूरी जिंदगी पार्टी को देने वाले कार्यकर्ता जो खून पसीना देते हैं लेकिन बिहार में डेलिगेट की सूची राहुल गांधी जी के सोच के बिल्कुल विपरीत बनाकर संगठन को कमजोर करने की कोशिश चुनाव अभियान के अधिकारियों द्वारा की गई है ! अपने नेतृत्व से प्रार्थना है इस ओर ध्यान दीजिए।’

पुष्कर ने अपने पद से इस्तीफा दिया

कांग्रेस के तिरहुत- सारण डिविजिन के सोशल मीडिया वाइस प्रेसीडेंट पुष्कर ने डेलिगेट के सवाल पर ही अपना इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने सोनिया गांधी, राहुल गांधी, के.सी. वेणुगोपाल सहित प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें उपाध्यक्ष के पद से मुक्त कर दिया जाए। उन्होंने पत्र में लिखा है कि ‘ मैं मानता हूं कि पद का कोई महत्व नहीं है क्योंकि पद पर रहते प्रतिष्ठा अगर नहीं मिलती है तो ऐसे पद पर बने रहना मेरे लिए उचित नहीं है। बिहार प्रदेश सोशल मीडिया डिपार्टमेंट के प्रदेश पदाधिकारी होते हुए मेरा एवं मेंरे साथियों की उपेक्षा की गई। मेैं सिर्फ कांग्रेस पार्टी का सदस्य रहकर अपने नेता राहुल गांधी के पदचिन्हों पर चलकर पार्टी हित में हमेशा कार्य करता रहूंगा। मेरा इस्तीफा स्वीकार करते हुए पदमुक्त किया जाए।’

कांग्रेस नेताओं की भावना पर प्रदेश अध्यक्ष ध्यान देंगे- राजेश राठौर, प्रवक्ता, कांग्रेस

इन दोनों के अलावा कई तरफ से डेलिगेट के चयन में मनमानी पर सवाल उठ रहे हैं। संजीव कुमार कर्मवीर ने ट्वीट किया है- ‘पटना ग्रामीण भाग में मेरा सबसे ज्यादा मेंबरशिप था। हम पटना जिला के सीरियल क्रमांक में नहीं हैं।। हम बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया पैनलिस्ट भी हैं। हम 2000 से एनएसयूआई से अभई तक लगातार 22 वर्षों से पार्टी का कार्य पूर्ण निष्ठा के साथ कर रहा हूं।’ भास्कर ने कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर से बात की। उन्होंने कहा कि कि कांग्रेस नेताओं की भावना पर प्रदेश अध्यक्ष ध्यान देंगे। जो छूट गए हैं उन्हें डेलिगेट की लिस्ट में शामिल किया जाएगा। कांग्रेस प्रवक्ता आसित नाथ तिवारी ने कहा है कि कांग्रेस बड़ा संगठन है। जब भी कोई बड़ा फैसला होता है तो कुछ लोग छूट जाते हैं। ये पार्टी के निष्ठावान लोग हैं। इन्हें कहीं न कहीं समायोजित किया जाना चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Source link

By bihardelegation21

Chandan kumar patel (BA) , I am not social worker I am Social Media Worker.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik? Ariana Grande Net Income आलिया भट्ट कितना कमाती है Aalia Bhath Earning
दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik?
%d bloggers like this: