• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Sitamarhi
  • Out Of 349 Tubewells In The District, 165 Closed, Due To Lack Of Irrigation, Cracks Started Falling In The Fields, Crop Affected

सीतामढ़ी4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

गोसाइपुर में बंद पड़ा सरकारी नलकूप और चारों ओर उगे जंगल।

  • निजी बोरिंग के सहारे खेतों में सिंचाई कर धान की रोपनी कर रहे हैं किसान

सावन का महीना बीतने को है, लेकिन खेतों में अब भी दरार पड़ा है। खेतों की नमी जाने के कारण खरीफ फसल प्रभावित हो रही है। किसान निजी बोरिंग के सहारे में खेतों में सिंचाई कर धान की रोपनी कर रहे है। लेकिन, आर्थिक तंगी की मार झेल रहे िकसानों के खेतों में दरार पड़ा है। इसके बावजूद बंद पड़े सरकारी नलकूल चालू नहीं किया जा रहा है। प्रशानिक पदाधिकारी बैठक दर बैठक कर बंद पड़े सरकारी नलकूप को चालू कराने को निर्देश देने का सिर्फ काेरम पूरा कर रहे है, लेकिन बंद पड़े नलकूप को चालू कराने की दिशा में कोई सार्थक प्रयास नहीं किए जा रहे है। सरकारी आंकड़ों पर गौर करें तो जिले के 349 नलकूपों में से 165 बंद है। इसके अलवा 95 उद्भव सिंचाई योजनाओं में 85 व नहर पईन और बीयर से सिंचाई की 5 योजनाएं ठप पड़ी है। जिले के 349 राजकीय नलकूपों में मात्र 184 ही वर्तमान में कार्य कर रहे हैं। जबकि 165 नलकूप बंद पड़े है। जो नलकूप संचालित है उसमें कहीं नाला नहीं बना है तो कहीं जर्जर नाले के सहारे खेतों में पानी की आपूर्ति की जा रही है। इन बंद पड़े 165 नलकूपों में विद्युत फाल्ट के कारण 13, यांत्रिक गड़बड़ी से 86, संयुक्त गड़बड़ी से 42 व अन्य गड़बड़ी से 24 बंद हैं। इधर जिले में सरकार द्वारा नलकूल, उद्भव व नहर पईन और बीयर के द्वारा 460 सिंचाई की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। लेकिन इनमें से का 255 सिंचाई सुविधाएं अब भी बंद हैं।

निजी बोरिंग से सिंचाई के लिए देनी पड़ रही मनमानी राशि

धर्मेंद्र कुमार, रामशीष मंडल, अशोक महतो आदि ने बताया कि सावन का महीना बीतने वाला है और खेतों में दरार पड़ा है। ऐसे में निजी बोडिंग के सहारे सिंचाई कर धान की रोपनी कर रहे है। इसके लिए निजी बोडिंग के संचालक को मनमाना राशि देनी पड़ रही है।

180 नलकूपों की मरम्मत को ले पंचायत स्तर पर 2.14 करोड़ का प्राक्कलन तैयार

जिले में खराब पड़े 180 नलकूपों के मरम्मत को लेकर पंचायत स्तर पर 2.14 करोड़ का प्राक्कलन तैयार किया गया है। लघु सिंचाई विभाग द्वारा 3-4 साल पूर्व नलकूप के रख-रखाव के लिए पंचायत को राशि आवंटित किया गया था, लेकिन स्पष्ट गाइडलाइन जारी नहीं करने के कारण अधिकांश पंचायतों में राशि बेकार पड़ा है।

बैठक पर बैठक, फिर भी बंद नलकूप नहीं हो रहे चालू

जिला कृषि टास्क फोर्स व विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कृषि कार्यों में समीक्षा में लगातार बंद पड़ नलकूपों को चालू कराने को दिशा निर्देश दिए जा रह है। लेकिन इन बंद पड़े नलकूपों को चालू कराने की दिशा में सार्थक पहल नहीं की जा रही है। अभी हाल में सीतामढ़ी पहंुचे प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने बंद पड़े नलकूपों को चालू कराने एवं आगामी 15 अगस्त तक धान रोपनी शत-प्रतिशत पूर्ण कराने का निर्देश दिया है।

बंद पड़े नलकूप को चालू करने के लिए निर्देश जारी

^जिले में बंद पड़े नलकूपों को चालू करने की दिशा में सार्थक पहल की जा रही है। इसके लिए लगतार समीक्षा की जा रही है। बंद पड़े नलकूप को चालू करने के लिए निर्देश भी जारी किया गया है। आंशिक दोष से बंद पड़े नलकूपों को शीघ्र चालू कराया जा रहा है। – गजेंद्र कुमार यादव, कार्यपालक अभियंता, सीतामढ़ी।

खबरें और भी हैं…



Source link

By bihardelegation21

Chandan kumar patel (BA) , I am not social worker I am Social Media Worker.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik? Ariana Grande Net Income आलिया भट्ट कितना कमाती है Aalia Bhath Earning
दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik?
%d bloggers like this: