• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Leaders And Businessmen Of Various Parties Including Former Deputy Mayor Rajesh Verma Under The Scanner Of People Associated With Goonda Bank

पटना/भागलपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पटना हाईकोर्ट फाइल फोटो।

सूद पर पैसा लगाने,… पैसा नहीं लौटा तो बदले में जमीन तक लिखवा लेने वाले लोगों के बारे में जांच एजेंसियों ने अपनी तफ्तीश तेज कर दी है। दायरे में भागलपुर के पूर्व डिप्टी मेयर राजेश वर्मा, कांग्रेस नेता प्रवीण कुमार कुशवाहा एवं उनके भाई दीपक कुमार सिंह, विजय यादव समेत विभिन्न दलों से जुड़े व चुनाव लड़ चुके, कारोबार करने वाले दो दर्जन से अधिक लोग है। इन्होंने हाल के वर्षों में भागलपुर में कई प्लाट खरीदे हैं।

इनमें निवेश की गई रकम इनकी आय के ज्ञात स्रोतों व इनकम टैक्स रिटर्न आदि से मेल नहीं खाती है। वर्मा से बातचीत के लिए जब कॉल किया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। इस विषय में पूछने पर प्रभारी कोतवाली इंस्पेक्टर धर्मेंद्र पासवान ने बताया कि हमारे पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है। सूचना है कि वर्मा का मामला भी जोगसर थाना को ही सौंपा गया है। भागलपुर के ही शिवम चौधरी पर 20 जगह जमीन खरीदने और 5 करोड़ रुपए बाजार में सूद पर चलाने का आरोप है। रिकॉर्ड के मुताबिक चौधरी का सूद-ब्याज का धंधा सुल्तानगंज-शाहकुंड में फैला है।

दो दर्जन से अधिक की हो रही छानबीन

भागलपुर में सूद पर पैसा चलाने वाले दो दर्जन से अधिक लोग जांच से जुड़े अफसरों के स्कैनर में है। इनमें एक नाम बिजय यादव का भी है। यादव ने कहा कि 41 साल मेरी उम्र है। एक रुपया भी सूद किसी से नहीं लिया। बल्कि ऐसे एक हजार से ज्यादा लोगों का सूद माफ करवाया हूं। इस मामले में नाथनगर थानाध्यक्ष मो. सज्जाद से हकीकत जानने की कोशिश की गई तो उनका जवाब था- सब गुप्त है और हम कुछ नहीं बताएंगे।

हमारे पास जांच के लिए यह मामला आया था पर डिसक्लोज नहीं कर सकते। प्रवीण सिंह कुशवाहा से पूछा गया तो उन्होंने उलटा सवाल दागा… यह इंक्वायरी कोर्ट की है या किसी और की? ये सवाल तो आपको पहले ही पूछना चाहिए! सूत्रों की माने तो प्रवीण के भाई दीपक सिंह भी छानबीन के दायरे में हैं।

पूर्णिया में जिस जमीन की बिक्री पर रोक, उसे ही बेचा

पूर्णिया में कोलकाता की सन प्लांट एग्रो फाइनांस लिमिटेड ने काफी जमीन खरीदी। यह चिट फंड कंपनी बंद हो गई। कंपनी की जमीन की खरीद-बिक्री पर रोक लगा दी गई। इसके बावजूद पूर्णिया के रजिस्ट्रार ने इस जमीन को निदेश सिंह व विभिन्न कंपनियों के नाम रजिस्ट्री कर दी। इस जमीन पर होटल बन रहा है। जबकि जमीन के बगल में एक बड़ी नदी का बहाव है, यहां किसी प्रकार का निर्माण एनजीटी नियमों के विरुद्ध है। पूर्णिया में भी डेढ़ दर्जन भू-माफिया जांच के दायरे में हैं।

इस पूरे मामले को लेकर अभी हम कुछ नहीं बता सकते।
-स्वर्ण प्रभात, एसपी-भागलपुर

खबरें और भी हैं…



Source link

By bihardelegation21

Chandan kumar patel (BA) , I am not social worker I am Social Media Worker.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik? Ariana Grande Net Income आलिया भट्ट कितना कमाती है Aalia Bhath Earning
दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी होगी और स्ट्रोंग पॉलीथीन’ जैसी साड़ी पहनकर Alia Bhatt ने बिखेरा जलवा बनने वाली है बाहुबली 3 सुपरहिट’ ही नहीं…’सुपर फिट’ भी है ख़ेसारी लाल किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है खेसारी की पत्नी कौन हैं Khesari Lal Yadav की एक्ट्रेस Neha Malik?
%d bloggers like this: